Gas Cylinder: LPG ग्राहकों को मिली बड़ी राहत! केंद्रीय मंत्री हरदीप पुरी ने किया ये बड़ा ऐलान

Gas cylinder: अगर आपके घर में भी एलपीजी गैस सिलेंडर का कनेक्शन है तो यह खबर आपके काम की है। दरअसल, केंद्रीय पेट्रोलियम एवं प्राकृतिक गैस मंत्री हरदीप सिंह पुरी ने एलपीजी कनेक्शन वालों को बड़ी राहत दी है। केंद्रीय मंत्री पुरी ने साफ किया है कि एलपीजी सिलेंडर के लिए ईकेवाईसी करने की कोई समय सीमा नहीं है। उन्होंने यह जानकारी सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म एक्स पर वीडी सतीशन के एक पत्र के जवाब में दी है।

वीडी सतीशन ने क्या कहा?

सतीसन ने पत्र के जरिए कहा था कि केवाईसी जरूरी है लेकिन संबंधित गैस एजेंसियों पर इसे करने की जरूरत से नियमित एलपीजी ग्राहकों को परेशानी होती है। इस पर हरदीप सिंह पुरी ने जवाब दिया कि फर्जी खातों को खत्म करने और कमर्शियल गैस सिलेंडर की फर्जी बुकिंग को रोकने के लिए ऑयल मार्केटिंग कंपनियां (ओएमसी) एलपीजी ग्राहकों के लिए ईकेवाईसी लागू कर रही हैं। हालांकि, पुरी ने यह भी साफ किया कि ईकेवाईसी की प्रक्रिया आठ महीने से ज्यादा समय से चल रही कंपनियों की ओर से यह भी स्पष्ट किया गया कि इस काम के लिए ग्राहक को एलपीजी वितरक के शोरूम में जाना जरूरी नहीं है।

क्यों जरूरी है केवाईसी?

तेल विपणन कंपनियां एलपीजी ग्राहकों के लिए ईकेवाईसी आधार प्रमाणीकरण कर रही हैं, ताकि फर्जी ग्राहकों को हटाया जा सके, जिनके नाम पर कुछ गैस वितरक अक्सर वाणिज्यिक सिलेंडर बुक करते हैं। यह प्रक्रिया 8 महीने से अधिक समय से चल रही है। इस प्रक्रिया में एलपीजी डिलीवरी कर्मी ग्राहक को एलपीजी सिलेंडर डिलीवर करते समय क्रेडेंशियल सत्यापित करते हैं।

डिलीवरी कर्मी ग्राहक के आधार क्रेडेंशियल कैसे प्राप्त करते हैं?

डिलीवरी कर्मी अपने मोबाइल फोन का उपयोग करके एक ऐप के माध्यम से ग्राहक के आधार क्रेडेंशियल प्राप्त करते हैं। ग्राहक को एक ओटीपी प्राप्त होता है, जिसका उपयोग प्रक्रिया को पूरा करने के लिए किया जाता है। ग्राहक अपनी सुविधानुसार वितरक शोरूम से भी संपर्क कर सकते हैं।

Motorola ने तोड़ा रिकार्ड! सस्ते सस्ते दाम पर दे रहा है सबसे जबरदस्त 5G Smartphone, देखिए बेहतरीन फीचर्स!

क्या मोबाइल ऐप के जरिए भी केवाईसी होगी?

ग्राहक ओएमसी ऐप इंस्टॉल करके खुद भी ईकेवाईसी पूरी कर सकते हैं। तेल विपणन कंपनियों या केंद्र सरकार द्वारा इस गतिविधि के लिए कोई समय सीमा नहीं है। तेल विपणन कंपनियों ने यह भी स्पष्ट किया है कि एलपीजी वितरकों के शोरूमों पर ग्राहकों की कोई “भीड़” नहीं है।

Royal Enfield का नहीं फिर से चलेगा राजदूत का नाम, 250cc के साथ मारी एंट्री, 60KM की मिलेगी माइलेज

Leave a Comment