Government News: इस जिले के 40 हजार उपभोक्ताओं के लिए खुशखबरी! मिलेगी 24 घंटे पूरी बिजली

Government News: शहर में 40 हजार उपभोक्ताओं को अब निर्बाध बिजली आपूर्ति के लिए ज्यादा इंतजार नहीं करना पड़ेगा। ट्रांसफार्मर, वीसीबी और बंच केबल बदलने का काम तेजी से चल रहा है। शहर में अब तक 100 किमी से अधिक बंच केबल बदली जा चुकी हैं। शहर में करीब 60 फीसदी काम पूरा भी हो चुका है।

इस काम को पूरा करने के लिए अधिकारी समय-समय पर इसका निरीक्षण कर रहे हैं। शहर में पांच साल से बिजली की समस्या थी। इसमें जर्जर बंच केबल और ट्रांसफार्मर इस समस्या को और बढ़ा रहे थे। थोड़ा लोड बढ़ते ही बंच केबल ही नहीं बल्कि ट्रांसफार्मर भी फाल्ट का शिकार हो जा रहे थे।

विभाग के अभियंताओं का कहना है कि इस समस्या के समाधान के लिए रिवैंप योजना के तहत करोड़ों रुपये की राशि से शहर के साथ जिले में बिजली का कायाकल्प किया जा रहा है।

इस काम को आठ महीने से अधिक का समय हो गया है। इसमें न सिर्फ बंच केबल के साथ सभी उपकरण बदले जा रहे हैं बल्कि उनकी क्षमता भी बढ़ाई जा रही है। यह कार्य पूरा होते ही शहर में निर्बाध बिजली आपूर्ति शुरू हो जाएगी। इसका लाभ शहर व विस्तारित क्षेत्र के 40 हजार उपभोक्ताओं को मिलेगा।

कुछ माह इंतजार करें, बिजली कटौती की समस्या दूर हो जाएगी

शहर में उपभोक्ताओं को निर्बाध व सुरक्षित बिजली उपलब्ध कराने के लिए रिवैंप योजना के तहत जिले में कार्य किया जा रहा है। वहीं, फाल्ट होने पर सिर्फ एक लाइन प्रभावित होगी। सभी लाइनों को बंद नहीं करना पड़ेगा। अभियंताओं का कहना है कि 33 व 11 केवी की नई लाइनों के निर्माण, क्षमता वृद्धि, लो वोल्टेज सिस्टम को मजबूत करने व सुरक्षित बिजली आपूर्ति के लिए आर्मर्ड सर्विस केबल लगाने के साथ ही उपकरण भी बदले जा रहे हैं।

दो हजार से अधिक पोल लगाए गए

शहर में जर्जर बिजली व्यवस्था को बदलने के लिए दो हजार से अधिक पोल लगाए गए हैं। इनमें जर्जर पोल बदले जा रहे हैं। जिले में करीब 550 किमी बंच केबल बिछाई जा रही है। इसमें से शहर व आसपास में दो किमी केबल बदली जा रही है।

100 किलोमीटर से अधिक केबल बदली जा चुकी है। दो हजार से अधिक पोल और सौ से अधिक ट्रांसफार्मर बदले जा चुके हैं। यह कार्य 25 मार्च 2025 तक पूरा हो जाएगा। शहर में बंच केबल, ट्रांसफार्मर, पोल और अन्य विद्युत उपकरण बदलने का कार्य तेजी से किया जा रहा है। यह कार्य पूरा होते ही उपभोक्ताओं को नियमानुसार निर्बाध विद्युत आपूर्ति मिलने लगेगी। रिवैम्प योजना के तहत शहर के साथ पूरे जिले में यह कार्य चल रहा है।