One Student One Laptop Yojana 2024: गरीब बच्चों को सरकार देगी मुफ्त लैपटॉप, आवेदन फॉर्म शुरू!

One Student One Laptop Yojana 2024: पिछले कुछ दिनों से आप फ्री लैपटॉप योजना के बारे में जरूर सुन रहे होंगे। सरकार की यह योजना देश के विद्यार्थियों के लिए बहुत ही जरूरी बताई जा रही थी क्योंकि इसमें विद्यार्थियों को मुफ्त में लैपटॉप दिए जाने की घोषणा की गई थी। लेकिन हाल ही में इस योजना को लेकर एक बड़ा अपडेट सामने आया है। यदि आप इस योजना का लाभ उठाना चाहते हैं तो इसके बारे में पूरी जानकारी अवश्य पढ़ें।

सरकार द्वारा फ्री लैपटॉप योजना की शुरुआत देश के टेक्नोलॉजी क्षेत्र के विद्यार्थियों के लिए की गई थी, लेकिन इस योजना की सच्चाई बहुत कम लोग जानते हैं। विद्यार्थी लगातार इस योजना का लाभ पाने के लिए आवेदन कर रहे हैं। इस फ्री लैपटॉप योजना की असली सच्चाई जानने के लिए इस पोस्ट में विस्तार से जानकारी दी गई है। जानिए क्या आपको फ्री लैपटॉप मिलेगा या नहीं, और इसके लिए क्या शर्तें हैं।

One Student One Laptop Yojana 2024
One Student One Laptop Yojana 2024

One Laptop One Laptop Yojana 2024 की ऑफिशियल Notification

हाल ही में भारत सरकार ने फ्री लैपटॉप योजना को लेकर एक ऑफिशियल घोषणा की है, जिससे सोशल मीडिया पर चल रही अफवाहों का पर्दाफाश हुआ है। पिछले कुछ दिनों से फ्री लैपटॉप योजना को लेकर तरह-तरह की बातें हो रही थीं, लेकिन अब सरकार ने साफ कर दिया है कि ऐसी कोई योजना नहीं है।

सरकार की ओर से जारी ऑफिशल नोटिफिकेशन में कहा गया है कि केंद्र सरकार ने किसी भी राज्य के विद्यार्थियों के लिए फ्री लैपटॉप योजना नहीं चलाई है। अखिल भारतीय टेक्नोलॉजी शिक्षा परिषद (AICTE) ने भी इस बात की पुष्टि की है कि सोशल मीडिया पर फ्री लैपटॉप योजना को लेकर फैल रही खबरें पूरी तरह से फर्जी हैं।

हालांकि, AICTE द्वारा कुछ सिलेक्ट और टेक्नोलॉजी क्षेत्र की मेरिट लिस्ट में आने वाले विद्यार्थियों को फ्री लैपटॉप देकर सम्मानित किया जाता है, लेकिन इसे सरकार की योजना मानना गलत है। यह सिर्फ मेरिट में आने वाले विद्यार्थियों के लिए एक सम्मान स्वरूप है, न कि सभी विद्यार्थियों के लिए कोई सरकारी योजना।

इसलिए, विद्यार्थियों को यह स्पष्ट कर देना जरूरी है कि सरकार द्वारा कोई फ्री लैपटॉप योजना नहीं चलाई जा रही है। अगर कहीं से भी इस तरह की खबरें मिलें, तो उन्हें नजर अंदाज करें और सिर्फ ऑफिशियल सूचनाओं पर ही भरोसा करें।